अस्पताल कर्मचारियों को नियम के विपरीत स्थानांतरित व रोका जाना बेहद निंदनीय : उपाधीक्षक

0
167

संवाददाता-अरविन्द ठाकुर

पटना(न्यूज़ सिटी)। गर्दनीबाग अस्पताल,पटना के उपाधीक्षक मंजुला रानी की मनमानी और निदेशक प्रमुख स्वास्थ्य सेवाएं बिहार द्वारा ज्ञापांक-1184(4) दिनांक-29.09.18 के आदेश से 10 वर्षों से अधिक जमे कर्मचारियों को स्थानांतरित कर दिया गया।

स्थानांतरित कर्मचारियों को सिविल सर्जन पटना के ज्ञापांक-7064 दिनांक-05.10.18 द्वारा विरमित करने का आदेश भी दिया गया। लेकिन उपाधीक्षक गर्दनीबाग अस्पताल द्वारा ज्ञापांक 33 दिनांक-03.01.19 के आलोक द्वारा उक्त स्थानांतरित स्थान के लिए विरमित के आदेश को निरस्त कर दिया गया। ऐसा प्रतीत होता है कि कुछ कर्मचारियों को नियम के विपरीत ईर्ष्या की भावना से विरमित किये गए आदेश को संशोधित करते हुए यहां निरस्त का आदेश दे दिया गया। यहां वरीय पदाधिकारियों के आदेश के बावजूद मनमाने ढंग से गर्दनीबाग अस्पताल के उपाधीक्षक मंजुला रानी द्वारा कुछ कर्मचारियों को नियम के विपरीत रोका जाना बेहद निंदनीय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here