पीएम मोदी से मांग, सरकारी स्कूलों के तर्ज़ पर प्राइवेट स्कूलों को भी मिले अनुदान

0
247

पटना (न्यूज सिटी)। प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन के पटना महानगर अध्यक्ष पंकज किशोर सिंह ने राष्ट्रीय अध्यक्ष शमाएल अहमद के आदेशानुसार बीते रविवार को भारत के लगभग सभी 28 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के अंतर्गत 39 बिलों से लगभग 20 लाख निजी विद्यालय के संचालकों एवं शिक्षकों के द्वारा 20 लाख पत्र प्रधानमंत्री को भेजने का प्रस्ताव रखा है। जिसकी महानगर अध्यक्ष ने प्रशंसा किया एवं उनके कदम से कदम मिलाकर इस मुहिम में एक शिक्षक तक ले जाने की बात कही है। साथ ही प्राइवेट विद्यालयों को सुचारू रूप से चलाने के एकमात्र साधन फीस है, जो कि मार्च से ना आने के कारण शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक कर्मचारियों को वेतन देने में असमर्थता स्थिति उत्पन्न हो चुकी है।

शिक्षकों के द्वारा ऑनलाइन शिक्षण की कड़ी मेहनत के बावजूद उन्हें उनके परिश्रम के अनुसार समय पर वेतन देने में स्कूल अब असमर्थ हो रही है। वेतन के अतिरिक्त सभी विद्यालयों के आवश्यक मासिक खर्चे जैसे बिल्डिंग का किराया, बैंक लोन, मेंटेनेंस, बिजली का बिल, गाड़ियों की किस्त आदि पर होने वाले खर्च के बोझ से विद्यालय आर्थिक रूप से प्रभावित हो रहे हैं। जिसमें प्रबंधकों के भीतर मानसिक तनाव उत्पन्न होना शुरू हो गया है। इसलिए एसोसिएशन के अध्यक्ष पंकज किशोर सिंह ने प्रधानमंत्री से अनुरोध करते हुए कहा कि भारतवर्ष के सभी राज्यों के सभी विद्यालयों को सरकारी स्कूलों के अनुसार प्रति छात्र पर होने वाले खर्च के अनुसार अनुदान देकर स्कूल का कल्याण करें एवं स्कूल को बंद होने से बचाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here