पूर्णिया पुलिस को मिली बड़ी उपलब्धि, अंतरजिला कुख्यात वांछित अपराधी हुआ गिरफ्तार

0
221

पूर्णिया/श्याम नंदन (न्यूज सिटी)। विधान सभा चुनाव 2020 को शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने को लेकर जिले के सभी थानाध्यक्ष/ओ0पी0 अध्यक्षों को अवैध हथियार एवं शराब की बरामदगी, फिरार अपराधकर्मियों की गिरफ्तारी एवं सघन वाहन चेकिंग करने का सख्त निर्देश दिया गया है। बता दें कि बीते 14 अगस्त को बनमनखी थाना अन्तर्गत अर्जून चौक के पास एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना में स्टेट बैंक अर्जून चौक पर स्थित ग्राहक सेवा केन्द्र के संचालक का छोटा भाई विरेन्द्र कुमार की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। जिसमे हत्यारों ने मृतक विरेंद्र कुमार को गोलीमार कर एक लाख एकानवे हजार रूपया लूट लिया।

हत्या के साथ रूपये लूट की घटना को गंभीरता से देखते हुए पूर्णिया पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा ने घटना में शामिल अपराधकर्मियों की गिरफ्तारी एवं लूटी गयी राशि की बरामदगी को लेकर एक पुलिस टीम गठित की। गठित टीम में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विभाष कुमार बनमनखी के नेतृत्व में त्वरित कारवाई करते हुए उक्त कांड का उद्भेदन कर दो अपराधियों को लूटी गई राशि से खरीदा हुआ मोटर साईकिल रजि नं0 BR 38 F 3712 एवं 01 पिस्टल, 07 जिन्दा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया।

कांड के मास्टर माईन्ड फरार की गिरफ्तारी हेतु गठित पुुलिस टीम द्वारा वैज्ञानिक अनुसंधान के आधार पर फरार चल रहे वांछित अपराधकर्मी मो. मोजिव पिता-मो. याकुब साकिन- विनोवाग्राम थाना-जानकीनगर जिला-पूर्णियाॅॅ को पटना जिला के बहादुरपुर थाना अन्तर्गत बाजार समिति से गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार अपराधी मो. मोजिव ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि मृतक विरेन्द्र कुमार से रुपये लूटने हेतु हथियार का भय दिखाकर प्रयास करने लगे तथा मृतक द्वारा विरोध करने पर विरेन्द्र कुमार को गोली मार कर उसके पास रखे रुपये लूट लिये. हालांकि गिरफ्तार अभियुक्त के खिलाफ़ मुरलीगंज थाना/रानीगंज थाना/जानकीनगर थाना/मधेपुरा समेत बनमनखी थाना में पांच मामला दर्ज है। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी मो. मोजिव को विधिसम्मत कारवाई पूर्ण करते हुए न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here