Page Nav

HIDE

Breaking News:

latest


 

 

 


 

पटना को जाम से मुक्ति के लिए फिर से चलेगा अतिक्रमण हटाओ अभियान

पटना (न्यूज़ सिटी)। नगर निगम, पुलिस विभाग एवं जिला प्रशासन की टीम को अतिक्रमण हटाओ अभियान को प्रभावी बनाने तथा पूर्व में हटाए गए अतिक्रमण की...


पटना (न्यूज़ सिटी)।
नगर निगम, पुलिस विभाग एवं जिला प्रशासन की टीम को अतिक्रमण हटाओ अभियान को प्रभावी बनाने तथा पूर्व में हटाए गए अतिक्रमण की स्थिति का प्रतिदिन फॉलोअप करने का निर्देश दिया। सीसीटीवी, कंट्रोल रूम से जाम की निगरानी होगी। जाम का मामला अंतर जिला होने की स्थिति में डीएम, एसपी को संबंधित जिला के डीएम एवं एसपी से बातचीत कर जाम की समस्या का समाधान करने का दिया निर्देश। एसडीओ एवं डीएसपी को अपने क्षेत्र में स्थलीय निरीक्षण कर जाम का स्थायी एवं तात्कालिक कारण पता लगाने एवं त्वरित समाधान करने का दिया निर्देश। जिला नियंत्रण कक्ष के अधिकारियों को सक्रिय एवं तत्पर रहने तथा जाम की सूचना प्राप्त होते ही मजिस्ट्रेट व पुलिस बल को भेज कर त्वरित निराकरण करने का दिया निर्देश। जाम की स्थिति से निपटने के लिए नगर एवं ग्रामीण एसपी को स्वयं भ्रमणशील रहने तथा जाम की स्थिति से निपटने हेतु प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश। डीएसपी एवं थानाध्यक्ष को स्वयं भ्रमणशील रहने तथा जाम की स्थिति का अपने क्षेत्र में समाधान करने का दिया निर्देश। परिवहन विभाग एवं पुलिस विभाग की संयुक्त टीम द्वारा सड़क पर वाहनों की जांच करने तथा मोटर वाहन अधिनियम की सुसंगत धाराओं के तहत कार्रवाई करने का निर्देश दिया। 

प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने शहर में जाम व अतिक्रमण की समस्या से निजात दिलाने तथा सड़क पर वाहनों का सुगम, सुरक्षित एवं सुचारू परिचालन सुनिश्चित कराने हेतु आईजी, डीएम, नगर आयुक्त, एसएसपी एवं एसपी सहित उच्चाधिकारियों के साथ आयुक्त कार्यालय सभागार में बैठक की तथा आवश्यक निर्देश दिया। बैठक मेंआयुक्त ने कहा कि जाम की समस्या अगर अंतर जिला से संबंधित हो तो ऐसी स्थिति में डीएम एसपी संबंधित जिला के डीएम एवं एसपी से बातचीत कर जाम की समस्या का समाधान करेंगे। जाम का कारण अंतर जिला होने की स्थिति में संबंधित जिला के डीएम एवं एसपी आपसी समन्वय एवं संतुलन बनाते हुए मामले की सतत एवं प्रभावी मॉनिटरिंग करेंगे। जाम व अतिक्रमण की समस्या के निराकरण के लिए इसके लिए एसपी नगर एवं एसपी ग्रामीण को स्वयं भ्रमणशील रहने तथा जाम की स्थिति से निपटने हेतु प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। 


साथ ही डीएसपी एवं थानाध्यक्ष को भी इस दिशा में सक्रिय एवं तत्पर रखने को कहा। आयुक्त ने अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमणशील रहने, स्थलीय निरीक्षण करने तथा जाम की समस्या के कारणों का पता लगाकर निराकरण करने का निर्देश दिया। उन्होंने पुलिस उपाधीक्षक एवं थानाध्यक्ष को भ्रमणशील रहकर ट्रैफिक जाम की समस्या के स्थायी एवं तात्कालिक कारण का पता लगाने तथा इसका त्वरित समाधान हेतु सार्थक एवं प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उन्होंने जिला नियंत्रण कक्ष के अधिकारियों को सक्रिय एवं तत्पर रहने तथा जाम एवं अतिक्रमण की सूचना प्राप्त होते ही मजिस्ट्रेट एवं पुलिस पदाधिकारी के संयुक्त टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई कर समस्या का समाधान करने का निर्देश दिया। पटना नगर निगम के नगर आयुक्त को अंचलवार टीम का गठन करने तथा जाम एवं अतिक्रमण की समस्या को दूर करने हेतु कार्य योजना तैयार कर क्षेत्रवार समस्या का निदान करने का निर्देश दिया। 

यद्यपि 7 दिसंबर से 14 दिसंबर तक अतिक्रमण हटाओ अभियान के द्वितीय चरण की शुरुआत की गई है। इसे प्रभावी बनाने हेतु डीएम एसपी को लगातार मॉनिटरिंग करने तथा पूर्व के हटाए गए अतिक्रमण स्थल का भी फॉलो अप करने का निर्देश दिया। अतिक्रमण हटाओ अभियान से जुड़े हुए टीम को अपने अपने क्षेत्र में कार्य योजना व प्लान के अनुरूप कार्य करने तथा प्रतिदिन जिला नियंत्रण कक्ष को ससमय रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया। अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत खाली किए गए जमीन का उपयोग करने हेतु नगर निगम को प्लान बनाने का निर्देश दिया। सड़क पर वाहनों की अवैध पार्किंग पर रोक लगाने तथा वाहनों की जांच कर मोटर वाहन अधिनियम की सुसंगत धाराओं के तहत विधि सम्मत कार्रवाई करने का निर्देश दिया। 

बैठक में पुलिस महानिरीक्षक संजय सिंह, जिलाधिकारी, पटना कुमार रवि, नगर आयुक्त पटना नगर निगम हिमांशु शर्मा, पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक डी अमरकेश, क्षेत्रीय विकास पदाधिकारी पटना प्रमंडल सर्वनारायण यादव सहित कई अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

No comments