Page Nav

HIDE

Breaking News:

latest


 

 


 

 

 


पूर्णिया ज़िले के सभी नौ केंद्रों पर कोविड-19 टीकाकरण का हुआ शुभारंभ

पूर्णिया (न्यूज सिटी)। वैश्विक महामारी कोविड-19 संक्रमण काल से निबटने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान...


पूर्णिया (न्यूज सिटी)।
वैश्विक महामारी कोविड-19 संक्रमण काल से निबटने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत की है। इसके साथ ही जिले के सभी टीकाकरण स्थल में कोरोना के खिलाफ विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण महाअभियान की शुरुआत की गयी। पूर्णिया जिलाधिकारी राहुल कुमार, सीएस डॉ. उमेश शर्मा, सदर विधायक विजय खेमका, सहित कई अन्य स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा संयुक्त रूप से सदर अस्पताल एवं मैक्स-7 अस्पताल में टीकाकरण महाअभियान का शुभारंभ किया गया। सदर अस्पताल में उद्घाटन अवसर पर स्वास्थ्य विभाग से डीपीएम ब्रजेश कुमार सिंह, सदर अस्पताल के अस्पताल प्रबंधक सिंपी कुमारी, केयर इंडिया के डिटीएल आलोक पटनायक, यूनिसेफ़ से शिव शेखर आनंद, यूएनडीपी से सोमेश सिंह के अलावे कई अन्य लोग उपस्थित थे। उद्घाटन के बाद सदर विधायक विजय खेमका ने बताया यह टीकाकरण महाअभियान स्वास्थ्य देश और स्वास्थ्य समाज के लिए बहुत ही जरूरी है। कोविड टीकाकरण को लेकर किसी के भी मन में किसी तरह की कोई भ्रांति नहीं होनी चाहिए। यह हमारे देश में निर्मित स्वदेशी टीका है जो पूरी तरह परीक्षण के बाद आई है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी, सफाई कर्मचारी और अन्य चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ अपनी अहम भूमिका निभा रहे हैं। जिले में 9 केंद्रों पर टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गयी है। जहां पर पहले से चयनित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को टीका लगाया जा रहा है। जिलाधिकारी राहुल कुमार ने बताया कोरोना बचाव के लिए आया टीका का दो डोज लेना अनिवार्य है। दोनों डोज के बीच 28 दिनों का अंतराल होगा। उन्होंने कहा कि टीका लगवाते ही आप ऐसा कभी न करें कि कोरोना के एहतियाती उपायों को भूल जाएं। इसके बाद भी लोगों को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन जिसमें मास्‍क का उपयोग, दो गज की सामाजिक दूरी, सैनिनीटाइजर का इस्तेमाल आदि का उपयोग करना बेहद जरूरी है। दूसरी डोज लगने के 2 हफ्ते बाद ही आपके शरीर में कोरोना के विरुद्ध जरूरी शक्ति विकसित हो पाएगी। सबसे पहले पूर्णिया सदर अस्पताल स्थित ब्लड बैंक के लैब टेक्नीशियन अभिजीत आनंद को टीका लगाया गया। इसके बाद भवानीपुर सीएचसी के एमओआईसी डॉ नवीन कुमार, धमदाहा स्वास्थ्य केन्द्र पर लैब टेक्नीशियन रंजीत कुमार एवं डगरुआ स्वास्थ्य केन्द्र के बीसीएम प्रियंका कुमारी को टीका लगाया गया। सदर अस्पताल में प्रथम टीका लेने के बाद लैब टेक्नीशियन अभिजीत आनंद ने बताया मुझे टीका लगाने से मुझे बहुत ज्यादा गर्व महसूस हो रहा है कि सबसे पहले वैक्सीनेशन के लिए मुझे चुना गया। क्योंकि जब तक हमलोग टीकाकरण नहीं कराते हैं तब तक किसी और को जागरूक कैसे कर सकते हैं। कोविड टीकाकरण वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। जिलेवासियों से अपील करते हुए अभिजीत ने कहा आप सभी लोग इस टीका को अवश्य ही लें ताकि हमलोग इस वैश्विक महामारी कोविड-19 को अपने देश से भगाने में कामयाब रहें और देश सुरक्षित रहे। सिविल सर्जन डॉ उमेश शर्मा ने बताया जिले के प्रत्येक सत्रों पर कोविन पोर्टल पंजीकृत स्वास्थ्य कर्मियों की सूची में से सौ-सौ कर्मियों की सूची तैयार की गयी थी। प्रत्येक सत्र पर 100 लोगों को टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस तरह जिले में प्रथम दिन 900 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिले के सभी टीकाकरण सत्र स्थलों पर एनआईसी के माध्यम से लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई थी। जिसमें देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा संबोधित किया जा रहा था। सभी केंद्रों पर एलईडी टीवी, लैपटॉप व अन्य जरूरी उपकरणों की व्यवस्था की गयी थी। साथ ही सभी टीकाकरण सत्र स्थलों पर प्रचार- प्रसार के लिए बैनर-पोस्टर एवं साज-सज्जा सामग्रियों का समुचित प्रबंध किया गया है। टीकाकरण केंद्रों पर प्रचुर मात्रा में हैंड सैनिटाइजर, मास्क आदि की व्यवस्था की गयी थी, ताकि लाभार्थियों एवं कर्मियों के द्वारा हैंड सैनिटाइजर का उपयोग किया जा सके। साथ ही कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए सफाई की व्यवस्था के साथ ही सामाजिक दूरी का पालन भी कराया गया था।

पूर्णिया से ब्यूरो रिपोर्ट श्याम नन्दन।

No comments