Page Nav

HIDE

Breaking News:

latest


 

 

विशेष अभियान के तहत स्वास्थ्य कर्मियों का 18 सत्र स्थल पर किया जा रहा टीकाकरण

किशनगंज। जिले में वैश्विक महामारी कोविड-19 वैक्सीनेशन के पहला चरण के टीकाकरण को लेकर सोमवार को विशेष अभियान के तहत कुल 18 सत्र स्थल स्थापित...


किशनगंज।
जिले में वैश्विक महामारी कोविड-19 वैक्सीनेशन के पहला चरण के टीकाकरण को लेकर सोमवार को विशेष अभियान के तहत कुल 18 सत्र स्थल स्थापित हैं। जिसमे 18 सत्र पर टीकाकरण सत्रों पर टीकाकरण का कार्य चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा पोर्टल पर पंजीकृत जिले के स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण इन्हीं सत्र स्थलों के माध्यम से किया जा रहा है। अब तक जिले में कुल 3022 लोगों का टीकाकरण सफलतापूर्वक कराया गया है। जिसका नाम पहले से दर्ज है वे सभी अपने निकटतम केंद्र पर जाकर अपना टीका जरूर लें। साथ ही जो स्वास्थ्य कर्मी जिनका नाम कोविन पोर्टल पर दर्ज नहीं है अगर वह टीकाकरण कराना चाहते हैं तो उनके लिए भी अवसर उपलब्ध कराया गया है। वर्तमान में केवल स्वास्थ्य विभाग एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता को ही कोरोना का टीका दिया जा रहा है। टीका लेने वाले सदर अस्पताल सहित जिले के सभी चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों, पैरा मेडिकल स्टाफ के अलावा सफाई कर्मचारियों ने इसे पूरी तरह से सुरक्षित बताया है। उन्होंने कहा कि लोगों को किसी अफवाह में ना पड़ते हुए अपने एवं परिवार के लिए टीका अवश्य लेना चाहिए। यह पूरी तरह सुरक्षित है। जितने भी लाभार्थी टीका लिए वह सभी कम से कम आधा घंटा के बाद से ही काम पर लगे हुए हैं। उन्होंने आम लोगों को संदेश देते हुए कहा कि टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। 

कोविड-19 वैक्सीन लेने वाले सभी स्वास्थ्य कर्मी बधाई के पात्र : सिविल सर्जन

सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना काल से उबरने के लिए यह टीका बहुत ही कारगर साबित हो रहा है। सदर अस्पताल सहित जिले के सभी टीकाकरण केंद्रों पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मियों के अलावा सफाई कर्मियों ने वैक्सीन लगवाई है, वे सभी बधाई के पात्र हैं। कहा की जिन लोगों ने वैक्सीन लगवाई है उनपर आधे घंटे तक नजर रखी जा रही और किसी को कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ है और ना ही किसी को कोई दूसरी समस्या उत्पन्न हई है। टीकाकरण के बाद सभी पर निगरानी रखी जा रही है। इसके लिए सभी टीकाकरण केंद्रों पर चिकित्सक व एम्बुलेंस की प्रतिनियुक्ति की गई है। टीकाकरण के दौरान जो भी एहतियात बरतनी है सभी बरती जा रही है। किसी को कोई दूसरी समस्या उत्पन्न ना हो, इस बात की निगरानी रखी जा रही है। 


टीका का कोई साइडइफेक्ट महसूस नहीं हुआ : प्रभारी चिकित्सक पदाधिकारी 

जिले में विशेष टीकाकरण अभियान के तहत प्रभारी चिकित्सक पदाधिकारी कोचाधामन, किशनगंज ग्रामीण टेढ़ागाछ ने कोरोना का टीका लिया और बताया कि बिना किसी झिझक के कोविड-19 का टीका लेने के लिए घर से निकले और टीकाकरण के बाद लगभग आधा घंटे तक केंद्र पर ही रुके रहे। उसके बाद हमलोग वापस अपने चिकित्सा केन्द्रों पर निर्भीक होकर काम भी किया। अभी तक हमलोगों को किसी भी तरह से कोई परेशानी नहीं हुई और ना ही किसी तरह का कोई डर लगा है। कोरोना का टीका पूरी तरह सुरक्षित तो है ही साथ ही टीका पर पूरा भरोसा भी है। टीका हर किसी को लेना चाहिए, टीका लेने के बाद ही वह पूर्व की तरह ही स्वस्थ महसूस कर रहे हैं। किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं है एवं टीका लेने के बाद अपने कार्यो में पूरी तरह से लग गए हैं। दूसरे लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोविन पोर्टल पर अपना नाम दर्ज होने के बावजूद जिन्होंने टीका नहीं लिया है वह अपने नज़दीकी के टीकाकरण केंद्र पर जाकर टीकाकरण करा लें। 


विशेष अभियान चलाकर स्वास्थ्य कर्मियों का किया जा रहा टीकाकरण 

सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया प्रथम चरण का टीकाकरण 18 स्थलों पर हो रहा है। जिनमें सदर अस्पताल, सामुदायिक अस्पताल बहादुरगंज, सामुदायिक अस्पताल पोठिया, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ठाकुरगंज, माता गुजरी मेडिकल कॉलेज, सामुदायिक अस्पताल कोचाधामन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टेढ़ागाछ, सामुदायिक अस्पताल दिघलबैंक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र किशनगंज के प्रत्येक टीकाकरण स्थलों पर 5 फरवरी तक प्रथम चरण के सभी लाभार्थियों का वैक्सीनेशन हो जाए इसलिए विशेष अभियान चलाकर दो सत्रों में स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जा रहा है। जिले के सभी टीकाकरण केंद्रों पर प्रतिदिन कम से कम 100 टीका लगाना है। इसके लिए टीकाकरण केंद्र में वेटिंग रूम, रजिस्ट्रेशन रूम, वैक्सिनेशन रूम व ऑब्ज़र्वेशन रूम भी बनाया गया है। टीकाकरण के बाद सभी को आधे घंटे के लिए ऑब्ज़र्वेशन रूम में रखा जा रहा है ताकि कोई परेशानी हो तो इसका उपचार स्थानीय स्तर पर जल्द से जल्द किया जा सके।

No comments