Page Nav

HIDE

Breaking News:

latest


 

 


 

 

 


पूर्णिया जिले में कोविड-19 टीकाकरण के दूसरे डोज की हुई शुरुआत

- प्रथम डोज के 28 दिन बाद दिया जाना है दूसरा डोज  - टीकाकरण के लिए लाभार्थियों को आधार कार्ड दिखाना जरूरी  - जिले के 88 प्रतिशत स्वास्थ्य कर...

- प्रथम डोज के 28 दिन बाद दिया जाना है दूसरा डोज 

- टीकाकरण के लिए लाभार्थियों को आधार कार्ड दिखाना जरूरी 

- जिले के 88 प्रतिशत स्वास्थ्य कर्मियों ने लिया टीकाकरण का प्रथम डोज 

- फ्रंटलाइन कर्मियों को भी मिल रहा है कोविड-19 टीका का पहला डोज


पूर्णिया।
जिला में कोविड-19 टीकाकरण के दूसरे डोज की शुरुआत हो गई है। जिसे पहला डोज दिया जा चुका है सोमवार से उन सभी स्वास्थ्य कर्मियों को टीकाकरण का दूसरा डोज दिया जा रहा है। कोविड-19 टीकाकरण को पूरा करने के लिए टीका का दो डोज लगाना जरूरी है। टीकाकरण का दूसरा डोज सभी लाभार्थियों को उसी टीकाकरण स्थल पर दिया जाएगा जहां उन्हें पहला डोज दिया गया था। दूसरे डोज के लिए भी सभी लाभार्थियों को एसएमएस द्वारा टीकाकरण स्थल, समय तथा तिथि की सूचना दी जा रही है। जिला में कोविड-19 टीकाकरण के लिए 09 टीकाकरण स्थल बनाये गए हैं, जिसमें पूर्णिया सदर, बनबनखी, रुपौली, कसबा, जलालगढ़, धमदाहा, डगरुआ, भवानीपुर व मैक्स-07 शामिल हैं। इसके अलावा सभी स्वास्थ्य केंद्रों में भी कोविड-19 का टीका लगाया जा रहा है। 

 आधार कार्ड की उपलब्धता जरूरी : 

कोविड-19 टीकाकरण के दोनों डोज के लिए सभी लाभार्थियों को आधार कार्ड के साथ उपस्थित होना जरूरी है। बिना आधार कार्ड की उपलब्धता के लोगों को कोविड-19 का टीका नहीं दिया जाएगा। ज्ञात हो कि कोविड-19 टीकाकरण के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार कोविड टीकाकरण हेतु लाभार्थियों के मोबाइल नंबर या आधार कार्ड में से किसी एक की उपलब्धता जरूरी थी, परंतु मोबाइल नंबर के गलत होने या एक ही नंबर अलग-अलग जगह उपलब्ध होने से बचने के लिए राज्य सरकार द्वारा लाभार्थियों को आधार कार्ड के साथ उपलब्ध होने और टीकाकरण में आधार कार्ड की जानकारी देना अनिवार्य कर दिया गया है। 

88 प्रतिशत स्वास्थ्य कर्मियों ने लिया है टीकाकरण का प्रथम डोज :  

कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत 16 जनवरी से हुई थी। प्रथम चरण में जिले के 88 प्रतिशत स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा टीकाकरण के प्रथम डोज का टीका लगवाया गया। प्रथम चरण में टीकाकरण के लिए जिले में 13 हजार 113 सरकारी तथा निजी स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा पंजीकरण करवाया गया था। इसमें से 11 हजार 640 स्वास्थ्य कर्मियों के कोविड-19 टीका का पहला डोज लगवाया है। इसमें सदर अस्पताल से 767, धमदाहा से 861, बनबनखी से 901, रुपौली से 755, कसबा से 620, भवानीपुर से 462, जलालगढ़ से 427, डगरुआ से 626, के०नगर से 769, बैसा से 668, अमौर से 813, बायसी से 662, पूर्णिया पूर्व से 712, बीकोठी से 668, श्रीनगर स्व 287 तथा मैक्स-7 से 1642 लोगों द्वारा टीकाकरण का पहला डोज लगवाया गया है। 

फ्रंट लाइन कर्मियों को भी मिल रहा है कोविड-19 का पहला डोज : 

जिले में कोविड-19 टीकाकरण के दूसरा चरण भी चलाया जा रहा है। इसकी शुरुआत 06 फरवरी से हुई है। दूसरे चरण में सभी फ्रंट लाइन कर्मियों जिसमें प्रशासनिक अधिकारी, पंचायती राज कर्मी, हाउसिंग व शहरी विभाग अधिकारी, पुलिस व एसएसबी कर्मी शामिल हैं उन्हें कोविड-19 टीका का पहला डोज लगाया जा रहा है। अब तक जिले में 2093 फ्रंट लाइन कर्मियों को टीका लगाया जा चुका है।

No comments