Page Nav

HIDE

Breaking News:

latest


 

 


 

राष्ट्रीय पोषण अभियान के नवनिर्वाचित प्रखंड समन्यवक एवं प्रखंड परियोजना सहायकों को दिया गया प्रशिक्षण

पूर्णिया। राष्ट्रीय पोषण अभियान को सफल बनाने के लिए सोमवार को प्रखंड स्तर पर निर्वाचित हुए समन्यवकों एवं परियोजना सहायकों को जिला आईसीडीएस ...


पूर्णिया।
राष्ट्रीय पोषण अभियान को सफल बनाने के लिए सोमवार को प्रखंड स्तर पर निर्वाचित हुए समन्यवकों एवं परियोजना सहायकों को जिला आईसीडीएस कार्यालय में प्रशिक्षण दिया गया। इस प्रशिक्षण में सभी नवनिर्वाचित व्यक्ति को पोषण अभियान के उद्देश्यों और कार्ययोजना को सामाजिक स्तर पर संचालित करने की जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में उन्हें पोषण अभियान डैश बोर्ड, आईसीडीएस कैश एप्लीकेशन, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं के पोषण, नवजात शिशुओं के प्रथम 1000 दिन के दौरान जरूरी पोषण आदि की जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में मास्टर प्रशिक्षक के रूप में पोषण अभियान की जिला समन्यवक निधि प्रिया, जिला परियोजना सहायक सुधांशु कुमार मौजूद रहे। प्रशिक्षण के अंतिम दिन सभी प्रखंड समन्यवकों और परियोजना सहायकों को आईसीडीएस जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (डीपीओ) शोभा सिन्हा ने पोषण अभियान उद्देश्यों को बेहतर रूप से हासिल करने को लेकर शुभकामनाएं दी। 

पोषण अभियान डैश बोर्ड की मिली जानकारी : 

प्रशिक्षण में सभी समान्यवकों और परियोजना सहायकों को पोषण अभियान के डैश बोर्ड की जानकारी दी गई। मास्टर प्रशिक्षक निधि प्रिया ने बताया कि पोषण अभियान के डैश बोर्ड में मुख्यतः पांच भाग हैं, जो कार्य के निष्पादन करने के लिए जरूरी है। इन पांच भाग में आईसीडीएस कैश, आईएलएबीआरजी व आईएलए सेक्टरों का क्षमता वर्धन, कन्वर्जेन्स, प्रोग्राम मैनेजमेंट और आंगनबाड़ी केंद्रों पर होने वाले भीएचएसएनडी, गोदभराई, अन्नप्राशन के दौरान गृह भ्रमण इत्यादि हैं।जिसकी जानकारी सभी नव निर्वाचित प्रतिनिधियों को दी गई। 


आईसीडीएस कैश एप्लीकेशन का मिला प्रशिक्षण :

सभी प्रखंड प्रतिनिधियों को आईसीडीएस कैश एप्लीकेशन की भी ट्रेनिंग दी गई। कैश एप्लीकेशन में कुल 10 मॉड्यूल होते हैं जिसमें परिवार प्रबंधन, दैनिक पोषाहार, गृह भ्रमण, बाल विकास निगरानी, घर ले जाने हेतु दी जा रही राशन (टीएचआर), ड्यूलिस्ट, आंगनबाड़ी केंद्र प्रबंधन, एमपीआर, किशोरी व सामुदायिक गतिविधियों की जानकारी अपलोड की जाती है। यह सभी गतिविधियाँ क्षेत्र के लोगों में पोषण स्तर के विकास लाने में सहयोगी हैं। सभी समन्वयकों और परियोजना सहायकों को इसके संचालन और इसकी उपयोगिता की जानकारी दी गई। 

मंगलवार से प्रखंडों में देंगे योगदान, पोषण अभियान के लक्ष्य हासिल करने को डीपीओ ने दी शुभकामनाएं : 

पोषण अभियान के लिए निर्वाचित सभी प्रखंड समन्वयक एवं परियोजना सहायक मंगलवार से अपने प्रखडों में कार्य की शुरुआत करेंगे। प्रशिक्षण के अंतिम दिन आईसीडीएस जिला कार्यक्रम प्रबंधक (डीपीओ) शोभा सिन्हा ने उन्हें शुभकामनाएं देते हुए पोषण अभियान के लक्ष्य को पूरा करने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि पोषण अभियान का मुख्य लक्ष्य गर्भवती व धात्री महिलाओं और 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों को बेहतर पोषण की जानकारी देते हुए उनके अच्छे स्वास्थ्य में सहायक होना है। उन्होंने कहा कि पोषण अभियान के प्रमुख उद्देश्यों में 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों में नाटापन, कुपोषण, जन्म के दौरान कम वजन होने की समस्या एवं 0 से 06 वर्ष तक के बच्चों और 15 से 49 वर्ष तक की किशोरियों व महिलाओं में एनीमिया की समस्या प्रतिवर्ष 3 प्रतिशत तक कम करना है। उन्होंने सभी नवनिर्वाचित सदस्यों को बेहतर कार्य करते हुए इस लक्ष्य को हासिल करने का निर्देश दिया है।

No comments