Page Nav

HIDE

Breaking News:

latest


 

 

 


 

प्रमंडलीय आयुक्त ने लगाया कोविड-19 का टीका, सभी लोगों को किया टीका लेने की अपील

पूर्णिया। जिले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों व उपकेंद्रों में कोविड-19 टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है, जहां 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों क...


पूर्णिया।
जिले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों व उपकेंद्रों में कोविड-19 टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है, जहां 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीका लगाया जा रहा है। चलाये जा रहे टीकाकरण अभियान में आमलोगों के साथ ही सभी प्रशासनिक अधिकारी व पुलिस अधिकारियों द्वारा बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया जा रहा है। शुक्रवार को पूर्णिया प्रमंडलीय आयुक्त राहुल रंजन महिवाल ने भी कोविड-19 टीका लगाया। टीका लगाने के बाद उन्होंने जिले के सभी लोगों से भी टीका लगाने की अपील करते हुए कहा सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई टीका पूरी तरह सुरक्षित है। यह लोगों के रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास करने में सहायक होता है। इसका कोई भी साइडइफेक्ट्स नहीं होता। इसलिए सभी लोग जिसकी उम्र 45 वर्ष या उससे अधिक है, उन्हें अपने नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर यह टीका जरूर लगवा लेना चाहिए। 

लोगों को स्वास्थ्य रखने के लिए दिन-रात प्रयत्नशील हैं स्वास्थ्य कर्मी : 

प्रमंडलीय आयुक्त राहुल रंजन महिवाल ने कहा जब से संक्रमण की शुरुआत हुई है सभी स्वास्थ्य कर्मी नियमित तौर से अपने कार्यों में लगे हुए हैं ताकि आमलोगों को संक्रमण के चपेट में आने से सुरक्षित रखा जा सके। अब जब सरकार द्वारा इससे उबरने हेतु वैक्सीन की इजात कर ली गई है और इसे आमलोगों को मुफ्त में उपलब्ध भी कराया जा रहा है तो सभी लोगों को इसका पूरा लाभ उठाना चाहिए। इससे लोग संक्रमण से उबरने में सफल हो सकेंगे। 


टीकाकरण का नहीं पाया गया है कोई विपरीत असर :
 

आरपीएम नजमुलहोदा ने बताया अब तक जिले में बहुत से स्वास्थ्य कर्मियों के अलावा आमलोगों ने भी वैक्सीन लगवाई है। अभी तक वैक्सीन लगवाने के बाद इसका कोई विपरीत असर नहीं पाया गया है, जो यह दर्शाता है कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। इसलिए सभी लोगों को निःसंदेह वैक्सीन लगवानी चाहिए। कोरोना के दूसरे लहर की भी शुरुआत हो गई है और बहुत से लोग इससे संक्रमित पाए जा रहे हैं। वैक्सीन लगवाने से लोग संक्रमण के चपेट में आने से बचने के अलावा संक्रमित हो जाने पर जल्द रिकवरी होने का लाभ उठा सकते हैं।

टीकाकरण के साथ ही संदिग्ध व्यक्तियों की नियमित हो रही कोविड-19 जांच : 

जिले में टीकाकरण के साथ ही नियमित संदिग्ध लोगों की कोविड-19 जांच भी की जा रही है। गुरुवार को पूर्णिया जिले में 1797 लोगों की रैपिडएंटीजन जांच की गई, जबकि जिले के 169 लोगों की ट्रूनेट एवं 958 लोगों की आरटीपीसीआर जांच भी की गई। वर्तमान में जिले में कोरोना के 130 एक्टिवकेसेस हैं। जिले में 07 कॉन्टेन्टमेंट जोन बनाए गए हैं,जहां आसपास के लोगों की जांच करने के साथ साथ उन्हें कोरोना से बचाव की जानकारी भी दी जा रही है। गुरुवार को जिले में 5378 लोगों को टीकाकरण का प्रथम डोज जबकि 421 लोगों को दूसरा डोज लगाया गया है।

No comments