Page Nav

HIDE

Breaking News:

latest

 









 

संक्रमण से जुड़ी नयी चुनौती को नियंत्रित करने में आम लोगों का अपेक्षित सहयोग जरूरी

अररिया। जिले में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। शु्क्रवार को जिले में कोरोना संक्रमण के पांच नये मामले सामने आये हैं। इस तरह ए...


अररिया।
जिले में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। शु्क्रवार को जिले में कोरोना संक्रमण के पांच नये मामले सामने आये हैं। इस तरह एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ कर 90 हो गयी है। ऐसा देखा जा रहा है कि होली के दौरान बड़ी संख्या में बाहरी राज्यों में बसे लोगों के घर वापसी के कारण संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की गयी| सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता के मुताबिक कोरोना की दूसरी लहर के बावजूद लोग अनभिज्ञ बने हुए हैं| कोरोना के इस दूसरी लहर को नियंत्रित करने के प्रयासों में आम लोगों के अपेक्षित सहयोग को उन्होंने जरूरी बताया।

टीकाकरण अभियान में तेजी लाने का हो रहा प्रयास :

सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता ने कहा संक्रमण से बचाव के लिये टीकाकरण एक बेहतर व आसान जरिया है। जिले में कोरोना टीकाकरण की प्रक्रिया को तेज करने के लिये हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न कोविड कॉर्डिनेशन कमेटी की बैठक में इसके लिये निर्धारित एजेंडा तैयार किया गया है। इसके मुताबिक शिक्षा विभाग, जीविका, पंचायती राज विभाग, सामाजिक सुरक्षा कोषांग व पंचायत राज प्रतिनिधियों के बीच आपसी समन्वय को बेहतर बनाने व विभागवार जिम्मेदारियों का निर्धारण किया गया है। सभी प्रखंड के बीडीओ को टीकाकरण सत्र स्थलों पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम, पंचायती प्रतिनिधियों की भागीदारी का दायित्व सौंपा गया है, तो जीविका दीदियों को प्रखंडवार हर दिन 150 लाभुकों का टीकाकरण सुनिश्चित कराने व अपने परिवार के सभी 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाने की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। इसी तरह शिक्षा विभाग को चिह्नित आयु वर्ग के सभी शिक्षकों का टीकाकरण सुनिश्चित कराने को कहा गया है। सामाजिक सुरक्षा कोषांग सूची के अनुरूप सभी प्रखंडों में टीका दिलाना व पेंशनरों की बैठक आयोजित कर उन्हें टीकाकरण के लिये प्रेरित करने को कहा गया है। इसी तरह आईसीडीएस के तहत संचालित आंगनबाड़ी केंद्र के माध्यम से संबंधित पोषक क्षेत्र में टीकाकरण अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार व 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को चिह्नित कर उनका टीकाकरण सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है। इस तरह जिले में हर दिन पांच हजार से अधिक लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। 

आम लोगों का अपेक्षित सहयोग जरूरी :

बाहरी राज्यों से लौट रहे सभी लोगों की जांच सुनिश्चित कराने के लिये स्वास्थ्य विभाग हर संभव प्रयास कर रहा है। डीपीएम रेहान अशरफ ने कहा कि बीते 25 मार्च से जिले में संक्रमण के प्रसार में तेजी देखी जा रही है। उन्होंने कहा आशा कार्यकर्ता, एएनएम सहित अन्य स्वास्स्थ्य कर्मियों की मदद से ऐसे लोगों को चिह्नित करने का प्रयास जारी है। लेकिन संक्रमण के इस दूसरी लहर को नियंत्रित करने के लिये आम लोगों का अपेक्षित सहयोग जरूरी है। उन्होंने लोगों से स्वास्थ्य विभाग को हर संभव सहयोग की अपील की। सतर्कता व टीकाकरण को संक्रमण से बचाव का बेहतर जरिया बताते हुए उन्होंने आम लोगों से नियमित रूप से मास्क का उपयोग, शारीरिक दूरी का ध्यान रखने व अपने हाथों की सफाई नियमित अंतराल पर करने की अपील की।

No comments